Labels

Sunday, October 22, 2017

गुलशन नंदा

हिंदी के रोमांटिक सामाजिक उपन्यासों में एक विशेष नाम थे गुलशन नंदा। गुलशन नंदा अपने समय के चर्चित उपन्यासकार थे, जिनके कई उपन्यासों पर फिल्में बन चुकी हैं।

   माना जाता है गुलशन नंदा के नयर उपन्यास के लिए प्रकाशक इ‌नके दरवाजे पर खड़े रहते थे। उपन्यास का एडवांस रुपया गुलशन नंदा को मिलता था।

मुंबई निवासी गुलशन नंदा का 16 नंवबर 1985 को निधन हो।

गुलशन नंदा के उपन्यास

1. गुनाह के फूल 

2. घाट का पत्थर

3. जलती चट्टान

4. गेलार्ड

5. नीलकण्ठ

6. सितारों से आगे

7. राख और अंगारे (भारतीय साहित्य सदन)

8. देवछाया

9. शीशे की दीवार

10. टूटे पंख

11. कलंकिनी

12. सांवली रात

13. अंधेरे चिराग

14. सांझ की बेला

15. पत्थर के होंठ

16. एक नदी दो पाट

17. डरपोक

18. सूखे पेड़ सब्ज पते

19. माधवी

20. नीलकमल

21. सिसकते साज

22. काली घटा

23. मैं अकेली

24. गुनाह के फूल

25. पाले खां

26. तीन इक्के

27. कांच की चूड़ियाँ

28. मैली चांदनी

29. कटी पतंग

30. गली कूंचे (स. कहानियाँ)

31. प्यासा सावन

32. चिंगारी

33. नया जमाना (स्क्रीन प्ले)

34. झील के उस पार 

35. शर्मीली

36. भंवर

37. अजनबी

38. सोने की लंका (हिंद पॉकेट बुक्स)

39. दाग (स्क्रीन प्ले)

40. पिजरा

41. देवता

42. महबूबा (स्क्रीन प्ले)

43. आसमान चुप है

44. वापसी

45. मेहंदी

46. चंदन

47. पतिता

48. शगुन

49. लरजते आंसू

50. आवारा बादल

51. लक्ष्मण रेखा

52. गुनाहों का रिश्ता

53.

54.

55. 


गुलशन नंदा के उपन्यासों पर निर्मित फिल्में

1.काजल (1965)

2. सावन की घटा (1966)

3.  पत्थर के सनम(1967)

4. नील कमल  (1968)

5.खिलोना (1970)

6. कटी पतंग (1970)

7. शर्मीली (1970)

8. नया ज़माना (1971)

9.  दाग़ (1973)

10. झील के उस पार (1973)

11. जुगनू’ (1973)

12. जोशीला (1973)

13. अजनबी (1974)

15. भंवर (1976)

14. महबूबा (1976) 

15. नज़राना (1987)


निम्न लिंक पर गुलशन नंदा जी से संबंधित एक अच्छा आर्टिकल पढ सकते हैं। 

गुलशन रिश्ता

गुलशन नंदा






1. नीलकंठ
2. आसमान चुप है
3. जलती चट्टान
4. घाट का पत्थर
5. मैं अकेली
6.  गुनाह के फूल
7.  कांच की चूङियां
8. माधवी
9. डरपोक
10. एक नदी दो पाट
11. नीलकमल
12. पत्थर के होंठ
13. सूखे पेङ सब्ज पत्ते
14. गुनाह के फूल
15. काली घटा
16. तीन इक्के
(क्रमांक 05-16 तक, अशोक पॉकेट बुक्स- दिल्ली से प्रकाशित)

No comments:

Post a Comment